ऐश्वर्या जी रेकी के माध्यम से बदल रही हैं लोगों का जीवन

काम का बोझ, आगे निकलने की अंधी होड़, घर और ऑफिस के तनाव को संभालने में अक्षम, ज़्यादा पैसे की चाहत, आज ज़्यादातर लोग गलत लाइफ स्टाइल से जीने के कारण तनाव और मानसिक रोग की तरफ तेज़ी से बढ़ रहे हैं। चेहरे पर मुस्कान है पर अंधरुनि ख़ुशी नदारद है। ऐसे में ज़रूरत है अपने लाइफ स्टाइल को बदलने की। सकारात्मक सोच की तरफ खुद को आगे बढ़ाने की। क्योकि जब तक आपके भीतर अंदरूनी ख़ुशी नहीं आएगी, आप जीवन का आनंद नहीं ले पाएंगे। रेकी आप में सकारात्मक विचार का संचार करता है और ख़ुशहाल जीवन जीने की कला सिखाता है। ॐ शांति की फाउंडर ऐश्वर्या जी रेकी का अभ्यास करा कर बहुत से लोगो का जीवन बदल चुकी हैं।

आइये सबसे पहले जानते है, रेकी (Reiki) है क्या ?

रेकी (Reiki) एक आध्यात्मिक अभ्यास पद्धति है। जो प्राचीन काल से ही प्रचलित है । जिसका उल्लेख कुछ कथाओं और ग्रंथों में मिलते हैं पर समय के साथ ये विलुप्त होता चला गया, इसे पुनः खोज निकाला जापान के मिकाओ उसई ने। एक मान्यता के अनुसार रेकी का जन्म भारत में हुआ था। सहस्त्रों वर्ष पूर्व भारत में स्पर्श चिकित्सा का ज्ञान था। रेकी का अभ्यास सरल और परिणाम बहुत कारगर होते हैं। इंसान सकारात्मक और नकारात्मक दोनों तरह के ऊर्जा से घिरा रहता है। रेकी का अभ्यास सकारात्मक ऊर्जा को सक्रिय कर नकारात्मक ऊर्जा को नष्ट करती है।

ॐ शांति और ऐश्वर्या जी के उद्देश्य –

ॐ शांति की संस्थापक ऐश्वर्या जी ने रेकी का वर्षों तक गहन अध्ययन किया है और बहुत से लोगो को रेकी के अभ्यास द्वारा ख़ुशहाल जीवन जीने में मदद की हैं। ॐ शांति के संपर्क में आने के बाद बहुत लोगो के जीवन में सकारात्मक बदलाव दिखाई दिए और अब वो तनाव मुक्त जीवन जी रहे हैं। रेकी विशेषज्ञ ऐश्वर्या जी कहती हैं ” मैंने लोगो के जीवन में बदलाव लाने के उद्देश्य से ही ॐ शांति की नींव रखी थी और मुझे ख़ुशी है कि मैं कामयाब हुई हूँ।

आप भी तनाव मुक्त जीवन जीना चाहते है तो आज ही ॐ शांति से संपर्क करें।

संपर्क –

J-87, J Block, Sector- 41

b.aishwarya999@gmail.com

Mo- 96438-72605